मोहल्ला क्लीनि को लेकर केजरीवाल पहुंचे राजनिवास, LG ने फाइल पास करने दिलाया भरोसा

मोहल्ला क्लीनिक का मामला लगातार दूसरे दिन दिल्ली के सियासी गलियारे में छाया रहा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बृहस्पतिवार शाम उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात करने राजनिवास पहुंचे। उपराज्यपाल ने कहा कि दिल्ली के लिए बेहद अहम इस प्रोजेक्ट को पर्याप्त सुरक्षा उपायों के साथ लागू किया जाएगा। इससे दिल्लीवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिलेंगी।      मोहल्ला क्लीनि को लेकर केजरीवाल पहुंचे राजनिवास, LG ने फाइल पास करने दिलाया भरोसाअभी-अभी: ISRO के सपने को लगा बड़ा झटका, नैविगेशन सैटलाइट IRNSS-1H की लॉन्चिंग फेल

बैठक में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन समेत वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे। हालांकि, दूसरे दिन आप विधायकों को राजनिवास के अंदर नहीं जाने दिया गया। उपराज्यपाल ने कहा कि वह दिल्लीवासियों के स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूत बनाने की हर पहल का समर्थन करते हैं।

 यही वजह रही कि पद संभालने के चंद दिनों में ही स्कूलों को दी गई जमीन पर मोहल्ला क्लीनिक बनाने की सैद्धांतिक सहमति दे दी थी। राजनिवास से मिली जानकारी के मुताबिक, बैठक में स्वास्थ्य सचिव प्रोजेक्ट व उसके बारे में आई पर चर्चा की। 

स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि मोहल्ला क्लीनिक के लिए जमीन चुनने का कोई पारदर्शी तरीका नहीं है। वहीं, परिसर का किराया बाजार दर से ज्यादा है। इसके साथ पार्टी कार्यकर्ताओं के घर किराये पर लिए गए हैं। वहीं, क्लीनिक व मौजूदा डिस्पेंसरी के बीच समन्वय भी नहीं है। 

क्लीनिक चलाने के लिए चार घंटे पर्याप्त नहीं हैं। मरीजों का कोई उचित लेखा जोखा नहीं है, जिससे चिकित्सकों के भुगतान का फैसला भी हो सके।

मोहल्ला क्लीनिक आम आदमी के लिए अहम प्रोजेक्ट

उपराज्यपाल ने कहा कि आम आदमी मोहल्ला क्लीनिक बेहद अहम प्रोजेक्ट है। इसे लागू करते वक्त इस तरह के मसलों पर ध्यान दिया जाए। साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाए कि प्रोजेक्ट पूरी तरह पारदर्शी व प्रभावी रहे। 

उपराज्यपाल ने मुख्यमंत्री को भरोसा दिया कि जरूरी सुरक्षा उपायों के साथ मोहल्ला क्लीनिक पर फैसला लिया जाएगा। इससे दिल्लीवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मिल सकेंगी। 

उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ मोहल्ला क्लीनिक के मसले पर हुई बैठक के बारे उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि उपराज्यपाल ने मसले को काफी सकारात्मक तरीके से लिया है। उन्होंने भरोसा दिया है कि मंगलवार तक वह फाइल को मंजूरी दे देंगे।

इस बीच अगर किसी मामले में कोई संदेह हुआ तो सरकार उनको इसके बारे में स्पष्टीकरण दे देगी। हालांकि, सिसोदिया ने बताया कि फाइल बृहस्पतिवार शाम उपराज्यपाल को भेज दिया गया है। 

You May Also Like

English News