बाल बाल बचें बड़े हादसे का शिकार होते-होते सपा मुखिया मुलायल सिंह यादव, जानिए….

समाजवादी पार्टी के संरक्षक और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने कहा कि आगामी लोकसभा चुनाव में किसी से गठबंधन नहीं करेंगे। अगर अखिलेश चाहें तो गठबंधन कर लें, लेकिन तब कोई फैसला लेना पड़ेगा। कहा कि पहले विधानसभा चुनाव अपने दम पर लड़े तो सरकार बनाई, लेकिन गठबंधन किया तो हार गए। वह बुधवार को पूर्व एमएलसी आशु मलिक के मुरादनगर स्थित आवास पर एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आए थे।  प्रदेश की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पांच माह में अपराध बढ़े हैं, जिसके लिए मौजूदा सरकार दोषी है। अपराध पर लगाम लगाने में सरकार नाकाम साबित हो रही है। बाल बाल बचें बड़े हादसे का शिकार होते-होते सपा मुखिया मुलायल सिंह यादव, जानिए....

अब यूपी से इन जातियों का आरक्षण ख़त्म करने जा रही है सरकार लिया फैसला

तीन तलाक के मुद्दे पर उन्होंने सधा हुआ जवाब दिया। उन्होंने कहा कि मुसलमानों ने सुप्रीम कोर्ट के फैसले को सहर्ष स्वीकार किया है। सभी को फैसले का सम्मान करना चाहिए। अगर फैसला मुसलमानों के हित में नहीं होता तो वे विरोध में उतर आते। गाजियाबाद में हज हाउस बंद होने को उन्होंने दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए कहा कि हज यात्रियों की सुविधा के लिए इसे बनाया गया था, यह राजनीति का विषय नहीं है। दोकलाम विवाद पर कहा कि वह पहले से ही चेताते आ रहे हैं कि भारत का दुश्मन पाकिस्तान नहीं बल्कि चीन है। भारतीय सेना चीन को उसी की भाषा में जवाब देने में सक्षम है। ट्रेन हादसे में मरने वाले यात्रियों के प्रति संवेदना प्रकट की। जीएसटी के बारे में कहा कि व्यापारियों को नुकसान हो रहा है। शिक्षामित्रों के आंदोलन पर बोले कि सरकार को प्राथमिकता के तौर पर समाधान करना चाहिए।  इस मौके पर जिलाध्यक्ष साजिद हुसैन, पूर्व विधायक सुरेंद्र कुमार मुन्नी, चौधरी रिछपाल सिंह, मधु चौधरी और पुष्पा शर्मा आदि मौजूद रहे। 

माला पहनाने को लेकर भिड़े सपाई, एक दूसरे पर गिरे कार्यकर्ता 
मुलायम सिंह यादव को माला पहनाने को लेकर सपाइयों के दो गुट भिड़ गए। उनमें नोकझोंक शुरू हो गई। उनसे मिलने के लिए कार्यकर्ताओं की अधिक भीड़ हो गई। आगे निकलने के चक्कर में धक्कामुक्की हुई, जिसकी वजह से सोफे पर बैठे कुछ कार्यकर्ता एक दूसरे पर गिर पड़े।
पूर्व एमएलसी आशु मलिक ने हाथ जोड़कर कार्यकर्ताओं से शांति बनाए रखने की अपील की। सीओ सदर आतिश कुमार ने बताया कि इतनी भीड़ की उम्मीद नहीं थी, हालांकि हालात जल्द ही नियंत्रण में कर लिए गए थे। 

टायर हुआ पंक्चर, काफिले से जाम भी लगा: मुलायम सिंह यादव की कार के बाएं साइड का अगला टायर पंक्चर हो गया। जिसे देखते ही तुरंत बदला गया। तेज गति के कार चलने के दौरान टायर पंक्चर होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। मुरादनगर आने के दौरान काफिले की वजह से रावली रोड पर जाम भी लग गया, करीब एक घंटे तक लोगों को जाम का सामना करना पड़ा।

You May Also Like

English News