मुंबई हादसा: शिवसेना, विपक्ष ने बताया लापरवाही, नोटिस के बाद भी लोगों ने खाली नहीं की इमारत

मुंबई के डोंगरी इलाके में बारिश और जलभराव के कारण 3 मंजिला इमारत गिर गई है. अभी तक इस हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई है, वहीं 35 लोगों के घायल होने की खबर है. बिल्डिंग गिरने के बाद राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो गई है. यह बिल्डिंग भिंडी बाजार के पास है.मुंबई हादसा: शिवसेना, विपक्ष ने बताया लापरवाही, नोटिस के बाद भी लोगों ने खाली नहीं की इमारतमोहल्ला क्लीनिक से जुड़ी फाइलों पास कराने के लिए 7 घंटे उपराज्यपाल कार्यालय के पास बैठे AAP विधायक

अशोक चव्हाण का वार –

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने कहा कि बिल्डिंग गिरना सरकार की लापरवाही दिखाता है. सरकार को लोगों की कोई चिंता नहीं है.

BMC ने दिया था नोटिस –

वहीं हादसे के बाद शिवसेना नेता नीलम गोरे ने कहा कि इमारत को पहले ही खतरनाक घोषित किया जा चुका था, BMC ने इसको लेकर नोटिस भी जारी किया था. उन्होंने कहा कि नोटिस जारी होने के बाद भी लोगों ने बिल्डिंग को खाली नहीं किया.

घटनास्थल पर पहुंची NDRF

हादसे के बाद घटनास्थल पर NDRF की टीमें पहुंच गई है. यह हादसा सुबह 8.30 बजे हुआ था. फायर ब्रिगेड की 10 गाड़ियां मौके पर हैं. स्थानीय लोग भी राहत एवं बचाव के काम में एजेंसियों की मदद कर रहे हैं.

मंगलवार को भी गिरा था मकान

इससे पहले मुंबई में मंगलवार को 298 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी. मूसलाधार बारिश की वजह से मुंबई के उपनगर विक्रोली में दो घरों के ढहने से दो बच्चों सहित तीन लोगों की मंगलवार को मौत हो गई थी.

English News

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com