बैंक में रखा तो नीरव मोदी, बाहर रखा तो नरेंद्र मोदी ले लेंगे पैसेः लालू प्रसाद

रांची। चारा घोटाले के दो मामलों में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद गुरुवार को सीबीआइ के दो अलग-अलग विशेष कोर्ट में पेश हुए। पेशी के बाद मीडिया से बात करते हुए उन्होंने देश की स्थिति पर चिंता जताई। कहा कि देश की स्थिति ठीक नहीं है। सभी बैंक खाली हो रहे हैं। कहा जा रहा है कि पैसे बैंक के बाहर रखिएगा तो नरेंद्र मोदी ले लेंगे और बैंक में रखिएगा तो नीरव मोदी ले लेंगे।

बैंक में रखा तो नीरव मोदी, बाहर रखा तो नरेंद्र मोदी ले लेंगे पैसेः लालू प्रसाद

उन्होंने बेरोजगारी पर भी सवाल उठाया। नौजवान मारा-मारा फिर रहा है। भर्ती नहीं हो रहा है। केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए पीएनबी घोटाले के बारे में कहा कि अभी और घपला निकलने वाला है। वह जेल में बंद हैं और ये लोग चुनाव लड़ रहे हैं।

इधर, दुमका कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित मामले में लालू प्रसाद, पूर्व सांसद डॉ. आरके राणा, लोक लेखा समिति के तत्कालीन अध्यक्ष जगदीश शर्मा सहित अन्य आरोपी सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत में पेश हुए। इस मामले में सीबीआइ की ओर से बहस जारी है। गुरुवार को सीबीआइ की ओर से वरीय विशेष लोक अभियोजक राकेश प्रसाद ने बहस की।

अदालत व लोक अभियोजक के बीच बहस के दौरान लालू प्रसाद ने कोर्ट में कहा कि सर, सीबीआइ अगर-मगर कर रही है। अभियोजन पर कुछ है ही नहीं। सर, आप सारा केस समझ गए हैं, जस्टिस कीजिएगा। गलती नहीं कीजिएगा। इस पर जज ने कहा कि हम लोगों से गलती नहीं होगी, होगी तो हाई कोर्ट सुधार देगा। लालू ने कहा कि पहले आप हैं सर, तब न हाई कोर्ट। हम लोगों को उम्मीद है कि आप गलती नहीं कीजिएगा।

डोरंडा मामले में तत्कालीन उप निदेशक ने दी गवाही

 डोरंडा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला मामले में लालू प्रसाद सहित अन्य आरोपी सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश प्रदीप कुमार की अदालत में पेश हुए। इस मामले में सीबीआइ की ओर से पशुपालन विभाग पटना के क्रय समिति के तत्कालीन उप निदेशक सुरेंद्र प्रसाद की गवाही दर्ज की गई। गवाही के दौरान उन्होंने क्रय समिति में दर निर्धारण की प्रक्रिया को बताया।

सुरेंद्र प्रसाद की गवाही इसके पूर्व चाईबासा कोषागार से अवैध निकासी से संबंधित चारा घोटाला कांड संख्या आरसी 20ए/96 में हुआ था। सीबीआइ व बचाव पक्षों की सहमति पर अदालत ने उनकी गवाही को इस मामले में एडॉप्ट किया गया।

You May Also Like

English News