अभी-अभी: राम रहीम पर रामदेव ने दिया बड़ा बयान, कह- ‘जो अपराधी है, सज़ा भुगते और आचरण में सुधार लाए’

साध्वी से यौन शोषण मामले में दोषी ठहराए गए डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को आज दोपहर ढाई बजे सजा सुनाई जाएगी. पंचकूला कोर्ट ने बीते शुक्रवार को उन्हें इस मामले में दोषी करार कर दिया है. सजा के ऐलान से पहले ‘आजतक’ से बात करते हुए योगगुरू बाबा रामदेव ने इस मुद्दे पर कहा कि कानून का सम्मान सभी को करना चाहिए, जिसने अपराध नहीं किया उसको डरना नहीं चाहिए. अगर अपराध किया है तो उसे सजा भुगतना चाहिए और अपने आचरण में सुधार लाना चाहिए.अभी-अभी: राम रहीम पर रामदेव ने दिया बड़ा बयान, कह- 'जो अपराधी है, सज़ा भुगते और आचरण में सुधार लाए'बड़ी खबर: आज राम रहीम के गुनाह का होगा बड़ा ऐलान, रोहतक जेल में लगेगी अदालत

अपराधी के साथ हो अपराधी जैसा व्यवहार

रामदेव ने कहा कि हर 2-3 साल बाद किसी ना किसी साधु-संत पर इस तरह का आरोप सामने आता है, हालांकि आरोप लगने से कोई अपराधी नहीं होता. उन्होंने कहा कि अगर किसी 15 साल सुनवाई के बाद भी कोई अपराधी साबित होता है, तो उसके साथ अपराधी वाला व्यवहार होना चाहिए. कोई भी गलत काम करेगा, तो कानून अपना काम करेगा.

योगगुरू बोले कि हमारे ऊपर पर भी कई तरह के आरोप लगे, हमारे ऊपर कई तरह के केस दर्ज हुए हैं. लेकिन हमने हर आरोप का सामना किया है. उन्होंने कहा कि हमने कभी भी कानून को अपने हाथ में नहीं लिया है, ना ही अपने समर्थकों को लेने देंगे.

धर्म का चोला पहनकर ऐसा काम करते हैं लोग तो तूफान आता है

रामदेव बोले कि धार्मिक अपराधीकरण , राजनीतिक अपराधिकरण देश को पीछे ले जाता है. किसी भी क्षेत्र में जो व्यक्ति शीर्ष पर बैठा है उसका दायित्व है कि वो कोई भी ऐसा काम ना करे, जिससे की गलत बात की ओर किसी का ध्यान चाहे. उन्होंने कहा कि धर्म का चोला पहनकर अगर कोई व्यक्ति इस प्रकार का आचरण करता है उससे तूफान आता ही है. उन्होंने कहा कि धर्म की आचार संहिता योग, अहिंसा, सदाचार है. 

संदिग्ध को देखते ही गोली मारने के आदेश

आपको बता दें कि रेप केस में दोषी डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह के लिए आज सजा का ऐलान किया जाएगा. इसके लिए रोहतक जेल में कोर्ट रूम बनाया गया है. जेल के आसपास किसी भी संदिग्ध को देखते ही गोली मारने के आदेश हैं. हरियाणा और पंजाब में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए हैं. सैकड़ों डेरा समर्थकों को पहले ही हिरासत में ले लिया गया है. सेना, अर्धसैनिक बल और राज्य पुलिस के जवानों तैनात किया गया है. रोहतक, सिरसा सहित कई जिलों में स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं. मोबाइल इंटरनेट सेवाए ठप्प कर दी गई हैं. रोहतक को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

You May Also Like

English News