छोटी करेंसी की ओर क्यों बढ़ रही है दुनिया, जानिए दस देशों की सबसे बड़ी करेंसी के बारे में..

भारतीय करेंसी में शुक्रवार को 200 रुपए के नोट के साथ एक नया इज़ाफा हो जाएगा। 200 रुपए के नोट को लेकर विशेषज्ञों में लंबी बहस चल रही है इसके फायदे और नुकसान को लेकर भी कयास लगाए जा रहे हैं। लेकिन आर्थिक विशेषज्ञों की मानें तो कालाबजारी और भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए सरकार का उठाया गया अगला कदम है।छोटी करेंसी की ओर क्यों बढ़ रही है दुनिया, जानिए दस देशों की सबसे बड़ी करेंसी के बारे में..अभी-अभी: आठ करोड़ के डोम में होगा पीएम मोदी का भाषण, 28 हजार करोड़ की योजनाओं का करेंगे उद्घाटन

अंतरराष्ट्रीय पुलिस और रेगुलेटरी एजेंसियों का भी मानना है कि बड़ी करेंसी आतंकवाद और आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाने के लिए दुनिया भर में पेपर करेंसी और उच्च-मूल्यवर्ग को खत्म करने का अधिकारियों पर दबाव है।

हाल ही में यूरोपियन सेंट्रल बैंक ने भी घोषणा की है कि 2018 तक 500 यूरो के नोट को बंद कर देगा। और यूरोजोन में भी 200 यूरो सबसे बड़ी करेंसी होगी।

फिलहाल भारत की सबसे बड़ी करेंसी 2000 का गुलाबी नोट है। जिसपर महात्मा गांधी की फोटो है। नोट के पीछे मंगलयान की फोटो है। इसपर तत्कालीन गर्वनर उर्जित पटेल का हस्ताक्षर है।

अमेरिका में 1934 में पेपर करेंसी के रूप में 100,000 डॉलर तक के सोने के मूल्य के बराबर के नोट जारी किए थे। इसके साथ 500, 1000 और 5000 मूल्य के डॉलर भी जारी किए थे। लेकिन उसे 1940 में ही खत्म कर दिया गया। अब अमेरिका की सबसे बड़ी करेंसी 100 डॉलर है।

 चीन की सबसे बड़ी करेंसी भी 100 युआन है। लाल रंग के बैंक नोट पर रिपब्लिक फाउंडर माओ जेडांग की फोटो लगी है।जापान में आज भी 1000, 2000,5000 और 10,000 येन की करेंसी है। जबकि यहां की सबसे छोटी करेंसी सिक्कों में है। इस करेंसी पर जापानी लेखक और टीचर फुकुजावा यूकिचि की फोटो लगी है।
जर्मनी में 80 फीसदी ट्रांजैक्सन कैश में होती है और यहां की भी सबसे बड़ी करेंसी 500 यूरो का नोट हैइंगलैंड में सरकारी ट्रांजैक्शन के लिए ब्रिटिश में एक लाख और 10 लाख पाउंड के नोट हैं जो स्कॉटलैंड और नदर्न आयरलैंड के लिए प्रयोग किए जाते हैं।
लेकिन बैंक ऑफ इंगलैंड ने क्वीन एलिजाबेथ की फोटो वाले 50 पाउंड के नोट जारी किए हैं।यूरोपियन देशों का काउंटर पार्ट होने के साथ ही फ्रांस ने 500 यूरो का नोट जारी किया है। 2018 में भी फ्रांस में भी सबसे अधिक मूल्य की राशि 200 यूरो होगी।
दक्षिण अमेरिका का सबसे बड़ा राष्ट्र ब्राजील का सबसे बड़ा नोट 100 रिएस है। रिएस हरे रंग का है जिसके पीछे डस्की ग्रुपर की फोटो लगी है।इटली की भी सबसे बड़ी करेंसी 500 यूरो है जिसे 2018 में बदले जाने की योजना है। यूरोपीय संघ के देश जैसे फ्रांस, इटली और जर्मनी आने वाले समय में 500 की जगह 200 यूरो का नोट जारी कर देगीं।
कनाडा की भी सबसे बड़ी करेंगी 100 डॉलर का ही बैंक नोट है। जिसपर पूर्व प्रधानमंत्री सर रॉबर्ट एल बॉरडन की फोटो लगी है। पॉलीमर नोट कनाडा की लेटेस्ट करेंसी है। 2018 में करेंसी में बड़े फेड़ बदल की योजना है जिसपर आइकॉनिक कैनेडियन महिला की फोटो लगी होगीदूसरे डॉलर आधारित देशों की तरह ही ऑस्ट्रेलिया की करेंसी भी 100 डॉलर है। हल्के नीले और ग्रे रंग के नोट पर अस्ट्रेलिया के जियोलोजिस्ट डगलस और एस्ट्रोनॉट जॉन टेबट की फोटो लगी है।

You May Also Like

English News